News

लालू यादव के तीसरे बेटे का खुला राज पर फिर उठा नया सवाल, RJD ने कहा- JDU की गंदी राजनीति

पटना, जेएनएन। राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के पक्ष-विपक्ष में घूमती बिहार की राजनीति (Bihar Politics) में अब उनके एक नए बेटे की एंट्री चर्चा में है। अभी तक तो लोग यही जानते थे कि तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) व तजेस्‍वी यादव (Tejashwi Yadav) ही लालू यादव के दो बेटे हैं, लेकिन बिहार सरकार में मंत्री व जनता दल यूनाइटेड (JDU) नेता नीरज कुमार (Niraj Kuamr) लालू के तीसरे बेटे को खोज लाए हैं। नाम है तरूण यादव (Tarun Yadav)। लालू परिवार (Lalu Family) के निकट के लोगों ने इसका राज खोला है। हालांकि, इसके साथ नए सवाल भी खड़े हो गए हैं। उधर, आरजेडी ने इसे घटिया राजनीति करार देते हुए मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) से जवाब मांगा है।
लालू यादव के तीसरे बेटे का खुला राज पर फिर उठा नया सवाल, RJD ने कहा- JDU की गंदी राजनीति


झूठे आरोप लगाकर लालू परिवार को बदनाम करने की कोशिश

आरजडी प्रवक्‍ता चितरंजन गगन कहते हैं कि कानून व्यवस्था, शिक्षा, स्वास्थ्य सहित तमाम विषयों पर आरजेडी के सवालों का जवाब सरकार के पास नहीं है, इसलिए मूल बातों से ध्यान भटकाने के लिए स्तरहीन बयानबाजी की जा रही है। आरजेडी प्रवक्‍ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि लालू परिवार पर मिट्टी घोटाला और बस घोटाला के भी आरोप लगाए गए थे। सरकार कार्रवाई क्यों नहीं करती? सब जान गए हैं कि झूठे आरोप लगाकर लालू परिवार को बदनाम करने की कोशिश की जाती रही है।

झूठे आरोप लगाकर लालू परिवार को बदनाम करने की कोशिश

आरजडी प्रवक्‍ता चितरंजन गगन कहते हैं कि कानून व्यवस्था, शिक्षा, स्वास्थ्य सहित तमाम विषयों पर आरजेडी के सवालों का जवाब सरकार के पास नहीं है, इसलिए मूल बातों से ध्यान भटकाने के लिए स्तरहीन बयानबाजी की जा रही है। आरजेडी प्रवक्‍ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि लालू परिवार पर मिट्टी घोटाला और बस घोटाला के भी आरोप लगाए गए थे। सरकार कार्रवाई क्यों नहीं करती? सब जान गए हैं कि झूठे आरोप लगाकर लालू परिवार को बदनाम करने की कोशिश की जाती रही है।


मंत्री नीरज कुमार ने पूछा लालू का बेटा तरूण यादव कौन?

विदित हो कि मंत्री नीरज कुमार ने कहा था कि लालू प्रसाद यादव ने तेजस्‍वी व तेज प्रताप यादव के अलावा एक और व्‍यक्ति तरुण यादव नाम से भी जमीन खरीदी है। जमीन के दस्‍तावेज के अनुसार वह लालू का तीसरा बेटा तरुण यादव है। मंत्री नीरज कुमार ने इसपर सवाल उठाते हुए कहा कि तेजस्‍वी और तेज प्रताप की तरह उसका नाम भी हिन्‍दी अक्षर ‘त’ से शुरू होता है। उन्‍होंने पूछा कि क्‍या लालू यादव का बेटा है तरुण यादव? क्‍या वह दत्तक पुत्र (Adopted Son) है? लालू यादव को इसे लेकर स्थिति स्‍पष्‍ट करनी चाहिए।

कहा: तीसरे बेटे को सामने लाएं लालू, दें वाजिब हक

मंत्री नीरज कुमार ने लालू प्रसाद यादव को ठग बताते हुए कहा कि उन्‍होंने अपने परिवार तक के लोगों से नौकरी दिलाने के नाम पर जमीन ले ली। मंत्री ने जमीन रजिस्ट्री के दस्तावेज भी जारी किए। ऐसे ही कुछ दस्‍तावेजों में खरीदार में तरुण कुमार यादव का भी नाम है। मंत्री ने यहां तक कहा कि इस तीसरे बेटे तरुण यादव को लालू उसका वाजिब हक दें।

निकट के लोगों ने कहा- यह तेजस्‍वी का ही बचपन का नाम

इस बाबत अारजेडी के सूत्र और लालू परिवार के निकट के लोग बताते हैं कि तरुण यादव दरअसल तेजस्वी का ही बचपन का नाम है। चूंकि यह नाम बचपन में रखा गया था, इसीलिए उस समय कागजात में तरुण यादव नाम का इस्तेमाल हुआ होगा। 

अगर तेजस्‍वी यादव ही तरूण यादव तो फिर उठा यह सवाल

अगर तेजस्‍वी ही तरूण यादव, तो फिर नया सवाल खड़ा होता है। यह सवाल उठता है कि क्‍या तेजस्‍वी यादव ने अपने चुनावी हलफनामे में उक्‍त संपत्ति व अपने बचपन के नाम का जिक्र किया है?

आरजेडी का पलटवार: घटिया राजनीति पर मुख्‍यमंत्री दें जवाब

मंत्री नीरज कुमार के आरोपों को आरजेडी ने घटिया राजनीति कहकर खारिज किया है। आरजेडी प्रवक्‍ता चितरंजरन गगन और मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि सवाल तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पूछना चाहिए कि वे राजनीति को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं? मंत्री की बात सरकार की बात होती है और सरकार का चेहरा मुख्यमंत्री होते हैं। इसलिए मंत्री के आरोपों की जिम्‍मेदारी मुख्यमंत्री को लेनी होगी।

झूठे आरोप लगाकर लालू परिवार को बदनाम करने की कोशिश

आरजडी प्रवक्‍ता चितरंजन गगन कहते हैं कि कानून व्यवस्था, शिक्षा, स्वास्थ्य सहित तमाम विषयों पर आरजेडी के सवालों का जवाब सरकार के पास नहीं है, इसलिए मूल बातों से ध्यान भटकाने के लिए स्तरहीन बयानबाजी की जा रही है। आरजेडी प्रवक्‍ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि लालू परिवार पर मिट्टी घोटाला और बस घोटाला के भी आरोप लगाए गए थे। सरकार कार्रवाई क्यों नहीं करती? सब जान गए हैं कि झूठे आरोप लगाकर लालू परिवार को बदनाम करने की कोशिश की जाती रही है।

Source Link

Author


Admin